दूर की बहन को रंडी बना दिया

डोर की बहन घर पर आई हुई थी. वो अब एक दम जवान ओर कमसिन हो गई थी. उसके बोर्ड के एग्ज़ॅम्स ख़तम हो गये थे तो उसकी छुट्टियां शुरू थी. वो मुझे पहले से ही पसंद थी ओर वो भी मुझे लाइन देती रहती थी. तो मुझे ज़्यादा समय नही लगा उसको फसाने मे.

हम लोग उपर उपर से ही मस्ती करते थे. खैर हम लोग को एक साथ समय मिल हुई गया जब घर के कुछ लोग बाहर गये हुवे थे. मैने उसके पूरे कपड़े निकल के उसको नंगी कर दिया.

उसके बाद वो मेरे लंड को पंत से निकल के उसके साथ खेलने लगी. जब मैने उसको चूसने को कहा था वो वो उसको पूरा मूह मे लेके चूसने लगी. उसके बाद मैने उसको लेता दिया ओर उसकी मस्त आछे तरह से उसकी चुदाई की.